HomeMy Healthवजन घटाने के उपाय - Weight Loss Tips in Hindi

वजन घटाने के उपाय – Weight Loss Tips in Hindi

स्वस्थ रहना और फिट रहना यह अपने आप में एक कला है। आज हर कोई फिट रहना चाहता है। और ऐसा होना भी चाहिए। लेकिन आज के इस भाग दौड़ भरी जिंदगी में वजन को कंट्रोल करना एक मुश्किल काम हो गया है। खाने पीने को लेकर लोग उतना कंट्रोल नहीं कर पाते और नतीजा ये निकलता है की, हमारा कंट्रोल हमारे वजन पर नहीं हो पता है।

आज के समय में वजन का बढ़ना यानि की मोटापे का शिकार होना कई प्रकार के बीमारियों को निमंत्रण देना है। जैसे की हाई ब्ल्डप्रेशर, कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना, लिवर फैट, पाचन तंत्र से संबधित आदि कई प्रकार के बीमारियों का एक कारण मोटापा भी हो सकता है। इसलिए हमें अपने वजन पर कंट्रोल रखना चाहिए और खुद को फिट रखना चाहिए।

स्वस्थ्य शरीर में ही स्वस्थ्य मस्तिष्क का वास होता है।

आपका स्वास्थ्य ही आपकी सबसे बड़ी संपत्ति है। लेकिन आपको इसका अहसास तब होता है जब आप इसे खो देते हैं।

स्वास्थ्य कैलक्युलेटर (BMI Calculator)

Table of Contents

मोटापा होने के कारण – Cause of Obesity in Hindi

  • मोटापा ऊर्जा के सेवन और उसके उपयोग के बीच असंतुलन होने के कारण होता है।
  • अधिक चर्बी युक्त आहार लेने के कारण भी मोटापा हो सकता है।
  • व्यायाम न करना और स्थिर जीवन व्यतीत करना भी एक कारण हो सकता है।
  • असंतुलित दिनचर्या और मानसिक तनाव के वजह से वजन बढ़ने लगता है। मानसिक तनाव आपके सेहत पर बुरा असर डालता है।
  • बहुत ज्यादा मीठे के सेवन से भी मोटापे का खतरा हो सकता है।
  • अगर खाना खाने के बाद दिन में आप ने सोने की आदत बना राखी है तो आपका वजन इससे भी बढ़ सकता है और आप मोटे हो सकते हैं।
tired faty girl
tired girl

मोटापा होने के लक्षण – Symptoms of Obesity

  • बार बार साँस फूलना भी मोटापे का एक लक्षण है। लेकिन यह अन्य किसी बीमारी या कई कारणों से हो सकता है।
  • ज्यादा पसीना होना भी एक लक्षण है।
  • मोटापे से ग्रसित लोग सोते समय खर्राटे लेते हैं।
  • बिना किसी अतिरिक्त कार्य किये यदि आपको अतिरिक्त थकान का एहसास होता है तो यह भी मोटापे की तरफ इशारा करता है।
  • जरुरत से ज्यादा सोना भी कहीं न कहीं मोटापे को दर्शाता है।

वजन कम करने के उपाय – Weight Loss Tips at home in Hindi

संतुलित आहार – Balanced Diet

वजन कम करने के लिए सबसे पहले हमें अपने खानपान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। और इसके लिए सबसे ज्यादा जरूरी है की हमें सतुलित आहार ही लेना चाहिए। हमें अपने आहार में मौसमी फल और सब्जियाँ शामिल करना चाहिए। सही समय पर भोजन करना। आवश्यक मात्रा में प्रोटीन, विटामिन को आहार में शामिल करना चाहिए।

हमेशा भूख से थोड़ा सा कम ही खाना चाहिए जिससे हमारी पाचन क्रिया सुचारु रूप से कार्य कर सके। खाने में शलाद और दही को जरूर शामिल करें।

खाने में सिम्पल एवं रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट से बचना चाहिए। इसके लिए मैदे से बने प्रोडक्ट्स, चीनी, शहद कम मात्रा में लें। इसकी जगह पर आप चोकर वाले आटे की रोटी, मिक्स अनाज की रोटी जैसे ज्वार, बाजरा की रोटी को अपने आहार में शामिल करें।

आहार में प्रोटीन को करें शामिल – Include Proteins in Diet

जब हम अपने आहार में प्रोटीन को शामिल करते हैं तो इससे हमे अपने वजन को कंट्रोल करने में मदद मिलती है। क्योंकि प्रोटीन हमारे शरीर में धीरे धीरे डाइजेस्ट होता है। और इस कारण हमारा पेट काफी समय तक भरा भरा लगता है। प्रोटीन हमारे शरीर में मांशपेशियों बनाने एवं उनकी मरम्मत करने का कार्य करते हैं। इसलिए हमें अपने आहार में दाल, छोले, अंडा आदि प्रोटीन युक्त चीजों को शामिल करना चाहिए।

उत्तम प्रकार के वसा और फाइबर – Good fat and Fiber

उत्तम प्रकार के वसा के लिए सरसों के तेल, सूरज मुखी का तेल, जैतून आदि के तेल का उपयोग करें। अगर आप मछली खाते है तो आप मछली के तेल का भी उपयोग कर सकते हैं। और आपको अपने आहार में मछली भी शामिल करनी चाहिए। साथ ही फाइबर के लिए हरी पत्तेदार, रेशेदार सब्जियाँ और शलाद को भी शामिल करना चाहिए।

water girl

उचित/पर्याप्त मात्रा में पानी पियें – Drink Sufficient Water

अच्छी सेहत के लिए उचित मात्रा में पानी पीना बहुत ही जरूरी होता है। इसे आपको बिलकुल भी नहीं इग्नोर करना चाहिए। न तो हमें मतलब से ज्यादा पानी पीना चाहिए और न ही कम पानी से काम चलाना चाहिए। और हाँ, उचित मात्रा में पानी पीने से हमारे चेहरे पर चमक आती है। अगर आप पानी में खीरा, नीबू या अदरक के टुकडे डाल के रखे और उस पानी को पियें तो सोने पे सुहागा जैसा है।

यह भी पढ़ें : बादाम खाने के फायदे

पर्याप्त नींद – Enough Sleep

अध्ययनों से पता चला है की, जो लोग पर्याप्त मात्रा में नींद नहीं लेते हैं उन लोगों में मोटापा बढ़ने का ५५% खतरा ज्यादा होता है। उन लोगों से जो पर्याप्त मात्रा में नींद लेते हैं। इसका सबसे बड़ा कारण यह है की, नींद पूरी न होने की वजह से भूख लगने वाले हार्मोन्स में उतार चढाव होते रहते हैं। इस वजह से आपके आहार का संतुलन बिगड़ जाता है।

चिया के बीज का इस्तेमाल करें – Chia Seeds for Weight Loss in Hindi

  • चिया का बीज फाइबर से भरपूर होता है। आपके पाचन तंत्र को मजबूत करता है।
  • इसमें आयरन और ओमेगा-३ की मात्रा पायी जाती है। जिससे फैट बार्न होता है और वजन तेजी से घटता है।
  • चिया सीड्स में प्रोटीन अच्छी मात्रा में पाया जाता है। जिससे भूख कम लगती है।
  • यह शरीर से विषाक्त पदार्थों और अतिरिक्त वसा (Extra Fat) को दूर करता है। जिससे शरीर का वजन कम होता है।

जीरा के पानी का करें उपयोग – jeera water for weight loss in Hindi

सबसे पहले रात में ही १ गिलास पानी में जीरा भिगो कर रख दें। इसके बाद सुबह उस पानी को ४-५ तक मिनट उबाल लें। उसके बाद इस पानी को पीजिये। यह वजन कम करने में सहायक होता है। अगर आप बिना पानी को उबाले ही पीना चाहें तो बिना उबाले ही पी सकते हैं।

यह भी पढ़ें : केले खाने के फायदे
weight loss1

वजन कम करने के लिए डाइट चार्ट : Weight Loss Diet Chart in Hindi

First Week Diet Chart – पहले सप्ताह के लिए डाइट चार्ट

आहार/Meals of the dayक्या खाएं / What Should we eat
सुबह 6:30 – 7:30 के बीच१ कप मेथी का पानी।
सुबह 7:30 – 8:30 के बीच में४ इडली,१ कप साम्भर, १/४ कप नारीयल की चटनी, १ ग्रीन टी और ४-५ बादाम।
सुबह 10: – 10:30 के समय१ कप दूध / १ कप सोया मिल्क / फल जूस में से कोई एक
दोपहर में 12:30 – 1:00 के समय३ रोटी, १ कटोरी दाल, १/२ कटोरी सब्जी/चिकन करी, १ कटोरी सलाद। खाने के थोड़ी देर बाद १ गिलास छाछ लीजिये।
दोपहर 3:30 – 4:30 के समय१ कप अंकुरित मूंग लें और उसमे २० दाने मूंगफली के मिलाइये। स्वाद के लिए इसमें नीबू का रस और स्वादानुसार नमक भी मिला लीजिये।
रात को खाने का समय 7:30 – 8:00 बजे३ रोटी, १/२ कटोरी सब्जी, १/२ कटोरी दही, १/२ कटोरी सलाद। रात में सोने से पहले १ गिलास दूध में हल्दी डालकर गर्म करें और उसे पियें।
वजन कम करने के लिए पहले सप्ताह का डाइट चार्ट

Second Week Diet Chart – दूसरे सप्ताह के लिए डाइट चार्ट

आहार / Meals of the day क्या खाएं / What Should we eat
सुबह 6:30 – 7:30 के बीच१ कप मेथी का पानी।
सुबह 7:30 – 8:30 के बीच में२ मूंग दाल का चिल्ला, १ ग्रीन टी, ४-५ बादाम।
सुबह 10: – 10:30 के समय १ कटोरी फल (मौसमी/सीजनल फल जो उस समय हो)
दोपहर में 12:30 – 1:00 के समय ३ रोटी, चावल, १ कटोरी सब्जी, १ कटोरी सलाद, १ कटोरी दही।
दोपहर 3:30 – 4:30 के समय १ कप नारियल पानी, १/२ कटोरी अंगूर या तरबूज।
रात को खाने का समय 7:30 – 8:00 बजे २ रोटी, १/२ कप मशरूम/चिकन करी, १/२ कप उबले हुए पालक या ब्रोकली। सोने से पहले १ गिलास हल्दी दूध।
वजन कम करने के लिए दूसरे सप्ताह का डाइट चार्ट

Third Week Diet Chart – तीसरे सप्ताह के लिए डाइट चार्ट

आहार / Meals of the day क्या खाएं / What Should we eat
सुबह 6:30 – 7:30 के बीच १ कप पानी में १/२ नींबू का रस मिलाकर पियें।
सुबह 7:30 – 8:30 के बीच में १ कटोरी दलिया, १ ग्रीन टी, ४-५ अखरोट या बादाम।
सुबह 10: – 10:30 के समय १ उबला हुआ अंडा और १ कीवी फल या आप १ गिलास ताजे फल का जूस ले सकते हैं।
दोपहर में 12:30 – 1:00 के समय २ रोटी, १ कटोरी चावल, १ कटोरी राजमा की सब्जी/दाल या मछली करी, १ कप सलाद और खाने के बाद १ गिलास छाछ।
दोपहर 3:30 – 4:30 के समय १ कप ग्रीन टी और १ मल्टीग्रेन बिस्किट।
रात को खाने का समय 7:30 – 8:00 बजे ३ रोटी, १/२ कटोरी दाल, १ कटोरी सब्जी / चिकन, १/२ कटोरी सलाद और १ टुकड़ा डार्क चॉकलेट। रात में सोने से पहले १ गिलास हल्दी दूध।
वजन कम करने के लिए तीसरे सप्ताह का डाइट चार्ट

Fourth Week Diet Chart – चौथे सप्ताह के लिए डाइट चार्ट

आहार/Meals of the day क्या खाएं / What Should we eat
सुबह 6:30 – 7:30 के बीच १ कप पानी में १/२ नींबू का रस मिलाकर पियें।
सुबह 7:30 – 8:30 के बीच में १/२ कटोरी उपमा, १ कप ग्रीन टी/१ गिलास दूध, २-३ बादाम।
सुबह 10: – 10:30 के समय १ कटोरी मौसमी फल।
दोपहर में 12:30 – 1:00 के समय ३ रोटी, १ कटोरी सब्जी, १ कटोरी दाल, १/२ कटोरी सलाद और १/२ कटोरी दही।
दोपहर 3:30 – 4:30 के समय १ कप नारियल पानी या ताजे फल का जूस। आप ग्रीन टी भी ले सकते हैं।
रात को खाने का समय 7:30 – 8:00 बजे १ रोटी, १ कप ब्राऊन राइश, १ कटोरी दाल/मछली करी / मशरूम करी, १/२ कटोरी उबली हुयी सब्जी। रात में सोने से पहले १ गिलास हल्दी दूध।
वजन कम करने के लिए चौथे सप्ताह का डाइट चार्ट

अक्सर पूंछे जाने वाले सवाल

क्या पोहा वजन घटाने के लिए अच्छा है?

Is Poha good for weight loss in hindi?
पोहे में कार्बोहाइड्रेट, फैट, प्रोटीन, आयरन पोटेशियम, विटामिन ए, विटामिन सी और विटामिन डी पाए जाते हैं। यह वजन घटाने में हमारी मदद करता है। पोहे में फाइबर की अच्छी मात्रा पायी जाती है। पोहा पचने में आसान होता है। लेकिन यह काफी समय तक भरा हुआ महसूस होता है। इस वजह से आप ज्यादा खाने से भी बच जाते हैं।

वजन घटाने के लिए कौन सी ग्रीन टी सबसे अच्छी होती है ?

which green tea is best for weight loss?
१. ऑर्गेनिक इंडिया तुलसी ग्रीन टी (Organic India Tulsi Green Tea)
२. लिप्टन हनी लेमन ग्रीन टी (Lipton Honey Lemon Green Tea)
३. टेटले ग्रीन टी – जिंजर, मिंट & लेमन (Tetley Green Tea – Ginger, Mint and Lemon)
४. किमीनो जैपनीज आर्गेनिक माचा ग्रीन टी (Kimino Japanese Organic Matcha Green Tea)
५. ऑर्गेनिक इंडिया तुलसी ग्रीन टी लेमन जिंजर (Organic India Tulsi Green Tea Lemon Ginger)

क्या पनीर वजन घटाने के लिए अच्छा है?

Is paneer good for weight loss in hindi?
पनीर में प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। पनीर वजन घटाने के साथ साथ आपके मांशपेशियों को भी मजबूत बनाता है। पनीर धीरे धीरे पचता है। इसलिए पनीर खाने से आपको ज्यादा देर तक भूख नहीं लगती। यह आपके पेट की चर्बी को भी कम करता है। इसलिए पनीर वजन कम करने में सहायक है।

क्या आम वजन घटाने के लिए अच्छा है?

Is mango good for weight loss in hindi?
आम में कैलोरी कम लेकिन डाईटी फाइबर अधिक मात्रा में पाए जाते हैं। जो की पाचन क्रिया को सुधारने में मदद करते हैं। अधिक फाइबर युक्त आहार लेने से वजन कम होता है। आम में विटामिन ए और सी की मात्रा भी पायी जाती है। जिससे हमारा इम्युनिटी सिस्टम भी मजबूत होता है और आँखों को भी सेहतमंद बनता है।

नोट :- इस लेख में दी गयी जानकारी इंटरनेट पर उपलब्ध जानकारियों से ली गयी है। जो की सिर्फ जानकारी उपलब्ध कराने के लिए है। इसे उपयोग करने से पहले एक बार किसी अच्छे डॉक्टर से सलाह जरूर लें। यदि आप इस टिप्स का उपयोग कर रहे हैं तो अपने अनुभव जरूर साझा करें। जिससे की और सभी पाठक को सटीक जानकारी प्राप्त हो सके।

Team : myhealth.thequizpro.com
RELATED ARTICLES

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular